पटाखा विस्फोट में पांचवीं मौत, घायल शमां ने अस्‍पताल में तोड़ा दम

      कुशीनगर : कप्तानगंज में चार नवम्‍बर को हुए पटाखा विस्फोट में घायल 18 साल की शमा की मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान सोमवार को मौत हो गई। घटना में यह पांचवी मौत है। 
घटना के बाद पुलिस लगातार जिले के सभी थाना क्षेत्रों में छापेमारी कर बड़ी मात्रा में अवैध पटाखा और विस्फोटक बरामद कर रही है। छह अवैध कारोबारियों को जेल भेजा जा चुका है। बीते 4 नवंबर को कप्तानगंज के आर्यनगर मोहल्ले में जावेद के घर में पटाखों से विस्फोट हुआ था। इसमें जावेद, उसकी मां फातिमा व पत्नी अनवरी व पड़ोसी अली हसन की बेटी नाजिया की मौत हो गयी थी। घटना में आसपास रहने वाले 13 लोग घायल हुए थे। 
जावेद के पड़ोसी अली हसन की दूसरी बेटी शमां भी गंभीर रूप से घायल हो गयी थी। उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज भेजा गया था। वह इतनी बुरी तरह से झुलस चुकी थी कि लाख प्रयास के बाद भी डॉक्टर से बचा नहीं सके। बुधवार को इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। डॉक्टरों के अनुसार अन्य घायलों की हालत में सुधार है।


टिप्पणियाँ